• 14 April, 2024
Geopolitics & National Security
MENU

यूएई पर यमन के हूती हमले के दौरान अमेरिकी सेना ने मिसाइल दागीं


मंगल, 01 फरवरी 2022   |   2 मिनट में पढ़ें

दुबई, एक फरवरी (एपी) : इजराइल के राष्ट्रपति की यात्रा के दौरान संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) को निशाना बनाने के लिए यमन के हूती विद्रोहियों द्वारा किए गए हमले के दौरान अमेरिकी सेना ने इंटरसेप्टर मिसाइल दागीं। अधिकारियों ने कहा कि यह दूसरी बार है, जब अमेरिकी सैनिकों ने इस तरह का कदम उठाया है।

व्हाइट हाउस और पेंटागन द्वारा सोमवार देर रात इस बारे में की गई पुष्टि यमन के वर्षों लंबे युद्ध में व्यापक अमेरिकी भागीदारी को दिखाती है।

अमेरिका ने यमन की निर्वासित सरकार की ओर से लड़ रहे सऊदी अरब के नेतृत्व वाले गठबंधन को आक्रामक समर्थन प्रदान किया है। यूएई की रक्षा में उसकी भागीदारी ऐसे समय हुई है जब हूती विद्रोहियों ने अबू धाबी स्थित अल-धफरा एयर बेस को एक लक्ष्य घोषित किया है। अल-धफरा में लगभग 2,000 अमेरिकी सैनिक तैनात हैं और यह प्रतिष्ठान सशस्त्र ड्रोन से लेकर एफ-35 स्टील्थ लड़ाकू विमानों तक हर चीज के लिए परिचालन के एक प्रमुख आधार के रूप में काम करता है।

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने कहा कि अमेरिकी सेना ने ‘यूएई पर आते एक मिसाइल खतरे का जवाब दिया।’’

साकी ने कहा, ‘इसमें संयुक्त अरब अमीरात के सशस्त्र बलों के प्रयासों के लिए पैट्रियट इंटरसेप्टर मिसाइल का इस्तेमाल शामिल है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं कहूंगी कि हम उनके (यूएई) साथ मिलकर काम कर रहे हैं।’

वहीं, पेंटागन के प्रेस सचिव जॉन किर्बी ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘अगर हम अपने अमीराती भागीदारों की रक्षा करने में मदद कर सकते हैं, तो हम ऐसा करने जा रहे हैं।’’

उनसे पूछा गया था कि क्या अमेरिका अल-धफरा के बाहर भी लक्ष्यों को निशाना बनाएगा।

संयुक्त अरब अमीरात की सरकार संचालित डब्ल्यूएएम समाचार एजेंसी ने सोमवार को हुई घटना की खबर दी और कहा, ‘हमले से कोई नुकसान नहीं हुआ, क्योंकि बैलिस्टिक मिसाइल के अवशेष आबादी वाले क्षेत्रों के बाहर गिरे।’

यह तुरंत स्पष्ट नहीं हो सका कि अवशेष कहाँ गिरे। हालांकि, अमेरिकी पैट्रियट मिसाइल प्रणाली को केवल अल-धफरा में तैनात किया जाना माना जाता है।

यह हमला इजराइल के राष्ट्रपति आइजैक हर्जोग के दुबई एक्सपो 2020 के दौरे से ठीक पहले हुआ।

सत्रह जनवरी को अबू धाबी पर यमन के हूती विद्राहियों द्वारा किए गए हमले में अल-धफरा के पास अबू धाबी नेशनल ऑयल कंपनी के ईंधन डिपो में तीन लोगों की मौत हो गई थी और छह अन्य घायल हुए थे।

************************************************




चाणक्य फोरम आपके लिए प्रस्तुत है। हमारे चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें (@ChanakyaForum) और नई सूचनाओं और लेखों से अपडेट रहें।

जरूरी

हम आपको दुनिया भर से बेहतरीन लेख और अपडेट मुहैया कराने के लिए चौबीस घंटे काम करते हैं। आप निर्बाध पढ़ सकें, यह सुनिश्चित करने के लिए पूरी टीम अथक प्रयास करती है। लेकिन इन सब पर पैसा खर्च होता है। कृपया हमारा समर्थन करें ताकि हम वही करते रहें जो हम सबसे अच्छा करते हैं। पढ़ने का आनंद लें

सहयोग करें
Or
9289230333
Or

POST COMMENTS (0)

Leave a Comment

प्रदर्शित लेख