• 25 September, 2022
Foreign Affairs. Geopolitics. National Security.
MENU

हमारी टीम

मेजर गौरवआर्या (सेवानिवृत्त)

मेजर गौरवआर्या (सेवानिवृत्त)

मुख्य संपादक

मेजर गौरवआर्या भारतीय सेना के सेवानिवृत्त अफसर है ! इन्होंने 1999 में सेना सेवा को छोड़कर कॉर्पोरेट कैरियर शुरू किया ! इसके अंतर्गत इन्होंने कॉर्पोरेट जगत के बड़े नामों जैसे विप्रो,  ह च ( अभी वोडाफोन ) तथा एर्नस्ट यंग इत्यादि में काम किया है ! 2017 में मीडिया मैं प्रवेश करने से पहले यह सिंगापुर की एक  बहुराष्ट्रीय कंपनी में सीईओ के पद पर कार्य कर रहे थे !

इस समय यह सामरिक विषयों के वरिष्ठ सलाहकार संपादक के रूप में भारत के प्रसिद्ध मीडिया समूह के साथ जुड़े हैं ! मेजर आर्या लेखक एवं जनवक्ता है ! यह अक्सर कॉरपोरेट और अन्य आयोजनों में भाषण देते हैं ! इसी के चलते इन्हें अपने नाम के अनुरूप गौरव और सम्मान उस समय प्राप्त हुआ जब इन्होंने इंग्लैंड की पार्लियामेंट में भाषण दिया !

मेजर आर्या चाणक्य फोरम के संस्थापक हैं

ब्रिगेडियर पी बीनूराज (सेवानिवृत्त)

ब्रिगेडियर पी बीनूराज (सेवानिवृत्त)

सलाहकार संपादक

ब्रिगेडियर बीनूराज  सेना की आर्टलरी (तोपखाना) के सेवानिवृत्त अफसर है ! यह आर्टलरी डायरेक्टरेट में निदेशक ऑपरेशन तथा आर्टलरी ब्रिगेड के कमांडर भी रह चुके हैं ! यह एक सर्टिफाइड प्रोजेक्ट मैनेजमेंट प्रोफेशनल तथा कॉलेज ऑफ़ डिफेंस मैनेजमेंट और भारतीय निवेश व्यापार संस्थान के पूर्व छात्र हैं ! इनको रक्षा विषयों और संस्थागत पुनर्निर्माण का व्यापक अनुभव है !

यह डिफेंस पत्रिका के संयुक्त संपादक रह चुके हैं ! अभी यह रोबोट स्टार्टअप नाम के प्रोजेक्ट पर भी काम कर रहे हैं !

 कर्नल एस डीनी (सेवानिवृत्त)

कर्नल एस डीनी (सेवानिवृत्त)

संपादक

कर्नल डीनी  ने भारतीय सेना की इन्फेंट्री में सेवा की है ! अपने सेवाकाल में इन्होंने हर प्रकार के क्षेत्रों और सामरिक वातावरण में सेवा की है ! इन्होंने संयुक्त राष्ट्रसंघ में प्रतिनियुक्ति पर सैनिक आब्जर्वर के रूप में कांगो में भी  काम किया है ! यह डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज के पूर्व छात्र तथा बाद में यहां पर ही शिक्षक भी रह चुके हैं ! इन्होंने डिफेंस एंड स्ट्रैटेजिक स्टडीज में मद्रास यूनिवर्सिटी से एमफिल की डिग्री प्राप्त की है ! अक्सर बहुत से समाचार पत्र तथा पत्रिकाओं में लेख लिखने के अलावा टीवी डिबेट इत्यादि में भी यह अपना सक्रिय योगदान देते रहते हैं !

ब्रिगेडियर अरविंद धनंजय (सेवानिवृत्त)

ब्रिगेडियर अरविंद धनंजय (सेवानिवृत्त)

रक्षा विषयों के सलाहकार संपादक
ब्रिगेडियर धनंजय ने सीमा पर तैनात एक ऑपरेशन ब्रिगेड को कमांड किया तथा सेना के एक  अग्रणी शिक्षण संस्थान के ब्रिगेडियर इंचार्ज व्यवस्था भी रह चुके हैं ! यह बाहर के देशों बोत्सवाना, दक्षिणी अफ्रीका में प्रतिनियुक्ति पर भारतीय सेना के प्रशिक्षण टीम के सदस्य तथा समुद्र के पार  देशों की सेनाओं के सलाहकार के रूप में भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं ! इनको तकनीकी तथा सामरिक दोनों विषयों पर शिक्षण का बड़ा अनुभव है !
लेफ्टिनेंट कर्नल शिवदान सिंह (सेवानिवृत्त )

लेफ्टिनेंट कर्नल शिवदान सिंह (सेवानिवृत्त )

हिंदी संपादक

कर्नल शिवदान सिंह (बीटेक एलएलबी) ने सेना की तकनीकी संचार शाखा कोर ऑफ सिग्नल मैं अपनी सेवाएं देकर सेवानिवृत्त हुए ! इस सेवाकाल में संचार व्यवस्था में बहुत बड़ी तकनीकी क्रांति हुई जिसके यह हिस्सा रहे हैं ! 1986 में जब भारतीय सेना उत्तरी सिक्किम में पहली बार पहुंची तो इन्होंने इस 18000 फुट ऊंचाई के दुर्गम पहाड़ी क्षेत्र को संचार द्वारा देश के मुख्य भाग से जोड़ा ! सेवानिवृत्ति के बाद इन्हें दिल्ली के उच्च न्यायालय ने समाज सेवा के लिए आनरेरी मजिस्ट्रेट क्लास वन के रूप में नियुक्त किया ! जहां पर इन्होंने समाज की सेवा की ! इसके बाद यह 2010 से एक स्वतंत्र स्तंभकार के रूप में हिंदी प्रेस में सामरिक और राष्ट्रीय सुरक्षा के विषयों पर लेखन कार्य कर रहे हैं ! यह रक्षा और सामरिक विषयों पर टीवी डिबेट्स में भी हिस्सा लेते हैं !