• 27 May, 2024
Foreign Affairs, Geopolitics & National Security
MENU

कानून के शासन का अभाव पाकिस्तान के अल्पविकास का मुख्य कारण : इमरान खान


सोम, 29 नवम्बर 2021   |   < 1 मिनट में पढ़ें

इस्लामाबाद, 28 नवंबर (भाषा) : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि देश के संसाधनों पर कुलीन वर्ग का कब्जा और कानून के शासन का अभाव, पाकिस्तान के अल्पविकास के मुख्य कारण हैं।

खान ने अमेरिकी मुस्लिम विद्वान शेख हमजा युसूफ को दिये साक्षात्कार में ये बातें कहीं। हमजा कैलिफोर्निया में जयतुना कॉलेज के प्रमुख हैं और अक्सर विभिन्न विषयों पर लिखा करते हैं। पाक सरकार द्वारा संचालित समाचार एजेंसी एसोसिएट प्रेस ऑफ पाकिस्तान ने अपनी खबर में यह जानकारी दी है।

पाकिस्तान टेलीविजन पर रविवार को प्रसारित साक्षात्कार में खान ने कहा, ‘‘संसाधनों पर कुलीन वर्ग के कब्जा कर लेने से स्वास्थ्य सुविधा, शिक्षा और न्याय के बड़े हिस्से से समाज के ज्यादातर लोगों को वंचित कर दिये जाने तथा कानून के शासन के अभाव के चलते पाकिस्तान अपनी क्षमताओं को हासिल नहीं कर सका।’’

उन्होंने कहा कि कोई समाज तब तब अपनी क्षमता को हासिल नहीं कर सकता जब तक कि कानून का शासन नहीं हो और विकासशील देशों में बड़ी समस्या कानून के शासन का अभाव होना तथा अमीर व गरीब के बीच भेदभाव करने वाले कानून का होना है।

उन्होंने कहा कि वह पाकिस्तान को पैगंबर के मदीना राज्य की अवधारणा के आधार पर एक इस्लामी कल्याणकारी देश बनाना चाहते हैं।

खान ने कहा, ‘‘हम इस देश को दो सिद्धांतों पर आधारित करना चाहते हैं। पहला, इसे एक कल्याणकारी व मानवीय राज्य बनाना, जो समाज के निचले तबके की देखभाल करे और दूसरा, कानून का शासन है।

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने गरीबों की मदद के लिए देश के इतिहास में सबसे बड़ा कल्याणकारी कार्यक्रम शुरू किया है।

*************************************




चाणक्य फोरम आपके लिए प्रस्तुत है। हमारे चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें (@ChanakyaForum) और नई सूचनाओं और लेखों से अपडेट रहें।

जरूरी

हम आपको दुनिया भर से बेहतरीन लेख और अपडेट मुहैया कराने के लिए चौबीस घंटे काम करते हैं। आप निर्बाध पढ़ सकें, यह सुनिश्चित करने के लिए पूरी टीम अथक प्रयास करती है। लेकिन इन सब पर पैसा खर्च होता है। कृपया हमारा समर्थन करें ताकि हम वही करते रहें जो हम सबसे अच्छा करते हैं। पढ़ने का आनंद लें

सहयोग करें
Or
9289230333
Or

POST COMMENTS (0)

Leave a Comment

प्रदर्शित लेख