• 06 December, 2022
Geopolitics & National Security.
MENU

ईरान द्वारा यमन में हूती विद्रोहियों को भेजे जा रहे हथियार जब्त: अमेरिकी नौसेना


गुरु, 23 दिसम्बर 2021   |   < 1 मिनट में पढ़ें

दुबई, 23 दिसंबर (एपी): अमेरिकी नौसेना ने बताया कि उसने एक मछली पकड़ने वाले जहाज में रखे हथियारों की एक बड़ी खेप जब्त की है, जिसे कथित तौर पर ईरान युद्धग्रस्त देश यमन भेज रहा था।

अमेरिकी नौसेना के गश्ती जहाजों ने ओमान और पाकिस्तान से दूर अरब सागर के उत्तरी हिस्से में सोमवार से शुरू हुए अभियान के दौरान के दौरान एक मछली पकड़ने वाला जहाज पकड़ा। नौसैनिक इस जहाज पर गए और वहां उन्हें कालाश्निकोव प्रकार की 1,400 राइफल और 2,26,600 राउंड आयुध मिले तथा इस पर चालक दल के पांच सदस्य सवार थे, जो यमन के हैं।

यमन में ईरान समर्थित हूती विद्रोहियों और सऊदी समर्थित सैन्य गठबंधन के बीच संघर्ष चल रहा है। पश्चिमी देशों और संयुक्त राष्ट्र के विशेषज्ञ लगातार ईरान पर अवैध तरीके से वर्षों से विद्रोहियों को हथियार और तकनीक मुहैया कराने के आरोप लगा रहे हैं, जिससे यमन में गृह युद्ध को बढ़ावा मिलता है और विद्रोही पड़ोसी सऊदी अरब पर मिसाइल और ड्रोन से हमला करते हैं।

हालांकि, ईरान हूती विद्रोहियों को हथियार की खेप पहुंचाने की बात से इनकार करता रहता है जबकि इसके समर्थन में सबूत मिले हैं। संयुक्त राष्ट्र में ईरान के मिशन ने हथियारों की इस खेप पर टिप्पणी के आग्रह पर तत्काल प्रतिक्रिया नहीं दी।

बुधवार रात नौसेना के बहरीन स्थित पांचवें बेड़े ने हथियारों की इस खेप को भेजने के लिए ईरान को जिम्मेदार ठहराया और बताया कि यह जहाज उस मार्ग पर था जहां से ‘‘ऐतिहासिक रूप से अवैध तरीके से यमन में हूती विद्रोहियों को हथियारों की खेप मुहैया कराई जाती है।’’

************************************************************




चाणक्य फोरम आपके लिए प्रस्तुत है। हमारे चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें (@ChanakyaForum) और नई सूचनाओं और लेखों से अपडेट रहें।

जरूरी

हम आपको दुनिया भर से बेहतरीन लेख और अपडेट मुहैया कराने के लिए चौबीस घंटे काम करते हैं। आप निर्बाध पढ़ सकें, यह सुनिश्चित करने के लिए पूरी टीम अथक प्रयास करती है। लेकिन इन सब पर पैसा खर्च होता है। कृपया हमारा समर्थन करें ताकि हम वही करते रहें जो हम सबसे अच्छा करते हैं। पढ़ने का आनंद लें

सहयोग करें
Or
9289230333
Or

POST COMMENTS (0)

Leave a Comment

प्रदर्शित लेख