• 10 August, 2022
Foreign Affairs. Geopolitics. National Security.
MENU

सुर्खियां

पुस्तक समीक्षा : द फोर्स बिहाइंड द फोर्सेस’

पुस्तकों में उपचार की अपार शक्ति होती है। पढ़ना एक अंतरंग प्रक्रिया है; जो आपके और उस पुस्तक के बीच होती है, जो मौन है फिर भी उसमें इतने शक्तिशाली…

राधा शर्मा

चीन को परेशान कर रहा गलवान का भूत

बीजिंग 2022 शीतकालीन ओलंपिक के 4 फरवरी को हुए विवादास्पद उद्घाटन समारोह के साथ ही गलवान घाटी का भूत चीन और पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) को परेशान करने के लिए…

लेफ्टिनेंट जनरल विनोद भाटिया (सेवानिवृत्त)

निर्मलजीत सिंह के साहस से आसमान में भी हारा पाकिस्‍तान

फ्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों पहले वायु सेना के अधिकारी थे, जिन्हें भारत सरकार ने अभूतपूर्व वीरता के लिए परमवीर चक्र से सम्मानित किया था। 1971 के युद्ध में वायु…

कर्नल शिवदान सिंह

चीन की अर्थव्यवस्था को पश्चिम से अलग-थलग होने का जोखिम

लंदन, पांच फरवरी (द कन्वरसेशन): बीजिंग शीतकालीन ओलंपिक खेल शुरू होने के साथ ही सारी दुनिया की नजरें फिर से चीन पर जा टिकी हैं। उइगर एवं अन्य अल्पसंख्यक समुदायों…

भाषा एवं चाणक्य फोरम

अमेरिकी हमले में हलाक आईएस नेता, आतंकवादी समूह के लिए कितना बड़ा नुकसान?

वाशिंगटन, चार फरवरी (द कन्वरसेशन) : सीरिया में अमेरिकी विशेष बलों द्वारा रात भर की गई छापेमारी में आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के नेता की मौत हो गई । अबू…

भाषा एवं चाणक्य फोरम

उत्तर प्रदेश-नेपाल सीमा की संवेदनशीलता

यह सर्वविदित है कि उत्तर प्रदेश की अंतर्राष्ट्रीय सीमा नेपाल के साथ लगी हुई है और यह लगभग 579 किलोमीटर लंबी है, जो कि 7 जनपदों की सीमा में विद्यमान…

विक्रम सिंह, पूर्व डीजीपी, उप्र

क्या है नाटो और यूक्रेन क्यों शामिल होना चाहता है?

न्यूयॉर्क, एक फरवरी (द कन्वरसेशन) :यूक्रेन को लेकर रूस का उकसाने वाला रवैया अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चिंता का विषय बना हुआ है, जबकि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने हमले…

भाषा एवं चाणक्य फोरम

बदहवास इमरान चीन में क्या हासिल कर लेंगे?

लगातार अलोकप्रिय होते जा रहे इमरान खान को लेकर पाकिस्तान में अनिश्चय बढ़ता जा रहा है। पर्यवेक्षक वर्तमान व्यवस्था को बदलने का सुझाव देने लगे हैं। हालांकि उनका कार्यकाल अगले…

प्रमोद जोशी

‘आकाश’: भारत का वायु रक्षा कवच

भारत की सीमाओं की सुरक्षा भारतीय सशस्त्र बलों की सर्वोपरि जिम्मेदारी है। इसके लिए देश को तीनों आयामों से आने वाले प्रतिकूल खतरे को विफल करने के लिए तैयार रहना…

ब्रिगेडियर अरविंद धनंजयन (सेवानिवृत्त), सलाहकार संपादक रक्षा

यूरोप में मंडराते युद्ध के बादल: यूक्रेन पर नाटो-रूस गतिरोध

अभी हाल ही में रूस ने मनोवैज्ञानिक युद्ध का एक अच्छा लेकिन बहुत पुराना तरीका आजमाया। इसने व्यापक रूप से प्रचारित किया कि भारी संख्या में सैनिकों को 'युद्ध के मोर्चे' पर…

लेफ्टिनेंट जनरल सैयद अता हसनैन (सेवानिवृत्त)

भारतीय ‘गार्ड’ अल्‍बर्ट एक्‍का के प्रहार से ध्‍वस्‍त हुआ पाकिस्‍तानी किला

स्‍वयं से पहले देश, यही भारतीय सेना के हर जवान की पहली और आखिरी पहचान है। और देश की रक्षा के दौरान खुद से पहले अपने साथी की जान की…

कर्नल शिवदान सिंह

अमर जवान ज्योति – अनावश्यक विवाद

अमर जवान ज्योति को इंडिया गेट से राष्ट्रीय युद्ध स्मारक (एनडब्ल्यूएम) में स्थानांतरित करने के निर्णय पर विवाद पूरी तरह से अनावश्यक है। अमर जवान ज्योति (एजेजे) 1971 के युद्ध…

कंवल सिब्बल

ताज़ा खबर